Special

घातक जहर और जैविक बम बनाने वाली इजरायल की सीक्रेट लैब ने तैयार की कोरोना वैक्सीन

इजरायल. दुनिया के लिए इस वक्त की सबसे बड़ी खबर आई है. खबर भी ऐसी की जिसको सुनने को पूरी दुनिया बेताब है. दुनिया की महाशक्तियां अब तक इस काम में पस्त नजर आई हैं और कोई सफलता अभी तक नहीं मिली है वहीं इजरायल ने कोरोना वायरस का टीका बना लेने का बडा दावा किया है और जल्द ही इसका पेटेंट कराने की बात कही है. कोरोना वायरस महासंकट के बीच इजरायल के रक्षा मंत्री नफताली बेन्‍नेट ने यह दावा करते हुए कहा कि 'देश के वैज्ञानिकों ने इस महामारी का टीका बना लिया है. रीसर्च इंस्‍टीट्यूट ने कोरोना के एंटीबॉडी को तैयार करने में बड़ी सफलता हासिल की है. कोरोना वैक्‍सीन के विकास का चरण पूरा हो गया है, अब हम उत्‍पादन के लिए तैयारी कर हैं.' हालांकि मंत्री ने अपने बयान में यह नहीं बताया कि क्‍या इस वैक्‍सीन का इंसानों पर ट्रायल किया गया है या नहीं. पर इजरायल का यह दावा पू...

देश में लॉकडाउन 17 मई तक बढ़ाया गया

नई दिल्ली. भारत में लॉकडाउन 3.0 की घोषणा कर दी गई है. लॉकडाउन को 17 मई तक बढा दिया गया है. 4 मई से 17 मई तक लॉकडाउन 3.0 जारी रहेगा. 3 मई को लॉकडाउन की अवधि समाप्‍त होने जा रही थी, ऐसे में सरकार ने इस संबंध में चर्चा के बाद आदेश जारी कर दिए.गृह मंत्रालय ने आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 के तहत 4 मई से आगे दो सप्ताह की लॉकडाउन अवधि को आगे बढ़ाने के लिए आदेश जारी किया. स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार, देश में रेड जोन के तहत 130 जिले, ऑरेंज जोन के तहत 284 जिले और ग्रीन जोन के तहत 319 जिलों को रखा गया है. इन्हीं जोन के आधार लॉकडाउन में सशर्त छूट दी जाएंगी. लॉकडाउन के आगे की स्थिति को लेकर पीएम मोदी ने गृहमंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ विपिन रावत, रेलमंत्री पियूष गोयल सहित सेक्रेट्री लेवल के कई अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ हाई लेवल मीटिंग की थी...

Oh my Gold... सोने की मांग में 36% की कमी, 11 साल के सबसे निचले स्तर पर ज्वैलरी की मांग

मुम्बई.कोरोना और लॉकडाउन के चलते सोने की चमक फीकी पड़ गई है. सोने में निवेश और मांग दोनों में भारी कमी आई है. जनवरी से मार्च तिमाही में सोने की मांग में गिरावट के चलते सोने की मांग में 36 फीसदी की भारी कमी आई वहीं ज्वैलरी की मांग 11 साल के निचले स्तर पर पहुंच गई है. जनवरी-मार्च की तिमाही में सोने की मांग घटकर 102 टन ही रह गई. वर्ल्‍ड गोल्‍ड काउंसिल (WGC) की रिपार्ट के मुताबिक जनवरी से मार्च के दौरान ज्वैलरी की मांग में 41 फीसदी की जबरदस्त गिरावट आई है. सोने की कीमतों में जबरदस्त तेजी, आर्थिक अनिश्चितताओं, उठापटक, कोरोना और लॉकडाउन के कारण पहली तिमाही में सोने की मांग घटकर 102 टन रह गई. माना जा रहा है दूसरी तिमाही में सोने की मांग और निवेश के हिसाब से हालत और बिगड़ेंगे. वर्ल्‍ड गोल्‍ड काउंसिल (WGC) के मुताबिक जनवरी से मार्च के दौरान ज्वैलरी की मांग में भी भारी कमी ...

चला गया 'बॉबी' का हीरो... अलविदा ऋषि कपूर

मुबई. 'मकबूल' के बाद चला गया बॉलीवुड का 'रऊफ लाला'. इरफान खान के निधन के ठीक अगले दिन जाने माने अभिनेता ऋषि कपूर के निधन ने पूरे देश की आंखें नम कर दी, कैंसर से जंग में हारे ऋषि कपूर ने 67 की उम्र में मुंबई के अस्पताल में आखिरी सांस ली. फिल्म अभिनेता अमिताभ बच्चन ने ट्वीट कर उनके निधन की सूचना दी. ऋषि कपूर की तबीयत खराब होने के बाद परिजनों ने दक्षिण मुम्बई के सर एच. एन. रिलायंस फाउंडेशन अस्पताल में उन्हें भर्ती कराया था. ऋषि कपूर को सांस लेने में दिक्कत हो रही थी और कैंसर से जुड़ा उनका इलाज अभी भी चल ही रहा था. बताया गया कि उन्हें वेंटिलेटर पर भी इलाज के दौरान रखा गया. ऋषि कपूर की पत्नी नीतू सिंह निधन के वक्त अस्पताल में उन्हीं के साथ मौजूद रहीं. वो दिन रात उनकी देखभाल में जुटी थी. ऋषि‌ कपूर पिछले साल सितंबर महीने में न्यूयॉर्क से कैंसर का इलाज कराके मुम्बई लौटे ...

अब डॉक्टर/स्वास्थ्यकर्मियों पर हमला किया तो 7 साल तक की जेल, भारी जुर्माना, मोदी सरकार का अध्यादेश

नई दिल्ली. अपनी जान दाव पर लगाकर दिन-रात सेवा में कोरोना वॉरियर्स डॉक्टर्स और अन्य चिकित्साकर्मियों पर हमला करने वालों की अब खैर नहीं होगी. कोरोना वायरस के खिलाफ जंग लड़ रहे स्वास्थ्य कर्मियों की सुरक्षा को देखते हुए मोदी सरकार ने अध्यादेश लाने का फैसला लिया है. केन्द्र सरकार ने साफ कहा है कि स्वास्थ्य कर्मियों के खिलाफ होने वाले हमलों और उत्पीड़न को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. उनकी सुरक्षा के लिए सरकार पूरा संरक्षण देने वाला अध्यादेश जारी करेगी. जिसके तहत अब गैर जमानती कार्रवाई होगी और सात साल की सजा तक का प्रावधान होगा. केन्द्रीय सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बुधवार को मंत्रीमंडल की बैठक के बाद बताया कि 'देश में कोरोना महामारी के जूझ रहे डॉक्टरों और आरोग्य कर्मचारियों पर हमले किसी सूरत में स्वीकार नहीं किए जाएंगे. स्वाथ्यकर्मियों को सुरक्षा देने के लिए प्रधानमंत्री...

लॉकडाउन के बीच वर्चुअल मैराथन में लगाइये 10 km तक दौड़, कोरोना को हराएं

जयपुर. किसी ने सच ही कहा है कोरोना की जंग और लॉकडाउन के बीच अब दुनिया पहले जैसी नहीं रहने वाली है. ऐसे कई प्रयोग दुनिया में हो रहे हैं जो आज से पहले कभी नहीं हुए थे. अब आप जरा कल्पना कीजिए कि आपको किसी मैराथन में भाग लेना है जिसमें आपको दस किलोमीटर तक दौड़ लगानी है लेकिन घर से बाहर नहीं निकलना. पड़ गए ना चक्कर में! हां पर अब कुछ ऐसी ही मायावी दुनिया का सच आपके सामने होगा, जब 26 अप्रैल को 'लॉक डाउन रन' होगी. यह पूरी तरह से एक वर्चुअल रन होगी जिसमें आप दौडेंगे और आपका हर कदम एक एप के जरिए काउंट होगा. जयपुर के युवाओं की इस अनूठी पहल को लेकर दुनियाभर में जबरदस्त उत्साह देखने को मिल रहा है जिसको नाम दिया गया है 'लॉकडाउन इंडोर वर्चुअल रन'. 26 अप्रैल 2020 को होने वाली यह रन तीन श्रेणियों में होगी जिसमें 2.1 km., 4.2km., 10km. रन शामिल की गई है. इस रन का मुख्य उद्देश्य है लोगों ...

कोरोना संकट में भारत की आर्थिक मजबूती के लिए कई बड़े एलान, जानें RBI गवर्नर की 10 बड़ी बातें

नई दिल्ली. भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा है कि देश के बैंकों के पास पैसों की कोई कमी नहीं है, बाजार में कैस की कमी नहीं आने दी जाएगी. कोरोना वायरस की वजह से अर्थव्यवस्था को नुकसान हो रहा है. संकट के बीच वित्तीय हालातों पर पूरी नजर है. देश की वित्तीय हालत पहले से बिगड़ी है. दुनियाभर में 9 ट्रिलियन डॉलर के नुकसान की आशंका है. हालांकि जी-20 देशों में भारत की स्थिति बेहतर है. 2020 वैश्विक अर्थव्यवस्था के लिए सबसे बड़ी मंदी का साल है. RBI की बड़ी बातें: 1 - अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के अनुसार इस साल 1.9% विकास दर रहने का अनुमान. कोरोना के बाद 7.4% विकास दर की उम्मीद है. कोरोना के बाद बैंको की हालात सुधारना बड़ी चुनौती. 2- ग्लोबल बिजनेस में 13-32% गिरावट की आशंका. 3- रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं, यह 4.4 फीसदी पर स्थिर है. रिवर्स रेपो रेट 0.25 फीस...

कोरोना हारेगा जीतेगा इंडिया. बस थोड़ा और रखें धैर्य, समझें 10 फैक्ट्स से

नई दिल्ली (सुभद्र पापड़ीवाल). भारत में कोरोना के आतंक से निपटने के लिए एक बार फिर लॉक डाउन को 3 मई तक बढा दिया गया है, पहले लॉक डाउन का वक्त 21 दिन का था जो 14 अप्रेल को समाप्त होने वाला था लेकिन इसे फिर बढा दिया गया. लेकिन इस बीच लगातार निराशा झेल रहे लोगों, व्यापारियों के लिए कुछ आशा की किरण भी बाजार में है. लॉकडाउन के दौरान कई फार्मा, चिकित्सा और डिजिटल कंपनियों में उछाल देखा गया है. इंटरनेट आधारित व्यापार, ई-कॉमर्स से जुड़े सेक्टर बढेंगे वहीं परिवहन, भंडारण, वेयर हाउसिंग जैसे क्षेत्र लॉकडाउन खत्म होने के बाद तेजी से वापसी करेंगे. यात्रा, होटल, विदेश यात्रा और शॉपिंग मॉल जैसे क्षेत्रों में जल्द वापसी की उम्मीद नहीं है लेकिन दुनिया अब पहले जैसी नहीं रहते वाली है. अवसाद और निराशा के इस माहौल में जब हर व्यक्ति सकारात्मक (Positive) खबर की आस लगाए बैठा है तब हर तरफ से नकारात्मक (Negative...

देश में लॉकडाउन 3 मई तक बढ़ाया गया

नई दिल्ली. भारत मे लॉक डाउन 3 मई तक बढ़ा दिया गया है. प्रधानमंत्री ने सात बातों में साथ मांगा है. पहली बात- अपने घर के बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें. विशेषकर ऐसे व्यक्ति जिन्हें पुरानी बीमारी हो, उनकी हमें Extra Care करनी है, उन्हें कोरोना से बहुत बचाकर रखना है. दूसरी बात- लॉकडाउन और Social Distancing की लक्ष्मण रेखा का पूरी तरह पालन करें , घर में बने फेसकवर या मास्क का अनिवार्य रूप से उपयोग करें. तीसरी बात- अपनी इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए, आयुष मंत्रालय द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें, गर्म पानी, काढ़ा, इनका निरंतर सेवन करें. चौथी बात- कोरोना संक्रमण का फैलाव रोकने में मदद करने के लिए आरोग्य सेतु मोबाइल App जरूर डाउनलोड करें। दूसरों को भी इस App को डाउनलोड करने के लिए प्रेरित करें. पांचवी बात- जितना हो सके उतने गरीब परिवार की देखरेख करें, उनके भोजन की आवश्यकता पूरी करें. ...

हाईटेक जापान, कोरोना संकट में स्टूडेंट्स का रूप धर डिग्री लेने पहुंचे रोबोट्स!

जापान. कोरोना के आतंक से दुनिया संकट में है. जापान भी इससे अछूता नहीं है. चीन का पड़ोसी होने से जापान को बड़ा खतरा है. पर जापान को दुनिया इस लिहाज से जानती है कि देश छोटा जरुर है लेकिन हौसले बहुत बड़े हैं. खत्म हो जाने के बाद फिर से खड़ा होना जापान से सीखा जा सकता है. हिरोशिमा और नागासाकी पर हमले के बावजूद खत्म हो चुके जापान ने विश्व के सामने जो उदाहरण पेश किया वो किसी से छुपा नहीं है. अक्सर जापान ऐसे कई उदाहरण पेश कर चुका है जो वहां की तकनीक और हौसलों के जरिए दुनिया का ध्यान अपनी ओर खींचता है. ताजा मामला कोरोना के दुनियाभर के साथ जापान में फैले आतंक का है. जापान में कोरोना वायरस के चलते स्प्रिंग ग्रैजुएशन सेरिमनी कैंसल कर दी गईं. पर जापान के स्टूडेंट लाइफ का यह अहम दिन होता है. स्टूडेंट्स की भावना समझते हुए जापान के टोक्यो की बिजनस ब्रेकथ्रू यूनिवर्सिटी ने अनूठा हाईटेक तरीका अपनाया....