India

जयपुर में 4 माह का बच्चा चुराने वाला गिरफ्तार, बेटियां थी, बेटा नहीं इसलिए वारदात को दिया अंजाम

एक शख्स ने जयपुर के एसएमएस अस्पताल से 4 माह का छोटा बच्चा सिर्फ इसलिए चुराया था ताकि उसे घर में बेटी की कमी कभी महसूस ना हो क्योंकि उसके सिर्फ बेटियां ही थी। राजस्थान के सबसे बड़े SMS हॉस्पिटल से 4 महीने का बच्चा (दिव्यांश) चोरी करने वाला शनिवार को जयपुर के मानसरोवर में पकड़ा गया। आरोपी की चार बेटियां थीं। बेटा नहीं होने के कारण उसने दिव्यांश को किडनैप किया था। आरोपी के घर पुलिस पहुंची तो उसकी मां और पत्नी की गोद में बच्चा खेलता मिला। पुलिस ने CCTV फुटेज के आधार पर आरोपी का हुलिया जारी किया था। इसके अलावा MP-UP तक टीमें भेजी गई थीं। SMS हॉस्पिटल थाना पुलिस फिलहाल उससे पूछताछ कर रही है।...

कठिन संघर्ष के बाद राजस्थान के छोटे से जिले झुंझुनूं के लाल जगदीप धनकड़ ने उपराष्ट्रपति चुनाव जीता

नई दिल्ली। उपराष्ट्रपति चुनावों में जगदीप धनखड़ ने मार्गरेट अल्वा को हरा दिया है। राजस्थान से ताल्लुक रखने वाले धनकड़ भारत के अगले उपराष्ट्रपति बन गए हैं। जगदीप धनखड़ का जन्म 18 मई 1951 को राजस्थान के झुंझनू जिले के किठाना में हुआ था। पिता का नाम गोकल चंद और मां का नाम केसरी देवी है। जगदीप अपने चार भाई-बहनों में दूसरे नंबर पर आते हैं। शुरुआती पढ़ाई गांव किठाना के ही सरकारी माध्यमिक विद्यालय से हुई। गांव से पांचवीं तक की पढ़ाई के बाद उनका दाखिला गरधाना के सरकारी मिडिल स्कूल में हुआ। इसके बाद उन्होंने चित्तौड़गढ़ के सैनिक स्कूल में भी पढ़ाई की। 12वीं के बाद उन्होंने भौतिकी में स्नातक किया। इसके बाद राजस्थान विश्वविद्यालय से कानून की पढ़ाई पूरी की। 12वीं के बाद धनखड़ का चयन आईआईटी और फिर एनडीए के लिए भी हुआ था, लेकिन नहीं गए। स्नातक के बाद उन्होंने देश की सबसे बड़ी सिविल सर्विसेज परीक्षा भी ...

आयकर विभाग ने मुंबई में तलाशी ली

मुंबई। आयकर विभाग ने 28 जुलाई 2022 को संबंधित शेयर ब्रोकर, बिचौलियों और एंट्री ऑपरेटर के साथ एक प्रमुख म्यूचुअल फंड हाउस के पूर्व फंड मैनेजर और इक्विटी के मुख्य ट्रेडर की तलाशी और जब्ती अभियान चलाया। तलाशी अभियान में मुंबई, अहमदाबाद, वडोदरा, भुज और कोलकाता में 25 से अधिक परिसरों को शामिल किया गया। तलाशी अभियान के परिणामस्वरूप, दस्तावेजों और डिजिटल डेटा के रूप में विभिन्न आपत्तिजनक साक्ष्य मिले हैं जिन्हें जब्त कर लिए गया। तलाशी के दौरान एकत्र किए गए इन साक्ष्यों सहित विभिन्न व्यक्तियों के शपथ-पत्रों के बयानों से काम करने के तौर-तरीकों का पता चला है। यह पता चला है कि उक्त फंड मैनेजर और मुख्य ट्रेडर विशेष व्यापार संबंधी जानकारी ब्रोकर/बिचैलियों और कुछ विदेशी अधिकार क्षेत्र में स्थित व्यक्तियों के साथ साझा कर रहे थे। इन व्यक्तियों ने इस तरह की सूचनाओं का इस्तेमाल अपने स्वयं के खाते या अपने ग्...

दो गुटों में बंटने से कमजोर पड़ा सरपंच संघ का आंदोलन, आपस मे भिड़े सरपंच

जयपुर। विभिन्न मांगों को लेकर राजस्थान सरपंच संघ द्वारा जयपुर में महापड़ाव का आह्वान किया गया था, लेकिन महापड़ाव में सरपंचों में आपस में फूट नजर आई। सरपंच संघ के पदाधिकारी एक ही मंच से विरोधाभासी बातें करते नजर आए। एक गुट जहां अपनी मांगों पर अड़ा रहा वहीं दूसरे गुट ने मांगों में बदलाव की मांग की और ग्रामीण विकास विभाग एवं पंचायती राज मंत्री रमेश मीणा का समर्थन करते हुए भ्रष्टाचार के खिलाफ की जा रही जांच को जायज बताया। पहला मंत्री रमेश मीना के विरोध में दूसरा गुट मंत्री के समर्थन में दिखा। बता दें कि मंत्री रमेश मीना ने बाडमेर और नागौर में नरेगा विकास कार्यों में सैंकड़ों करोड़ के भ्रष्टाचार का दावा किया था, जिसके बाद से सरपंच संघ मंत्री से नाराज था। जयपुर में प्रदेशभर के सरपंचों को मंत्री के खिलाफ महापडाव डालने के लिए बुलाया गया लेकिन सरपंच संघ का दूसरा गुट मंत्री...

बढ़ती मंहगाई एवं बेरोजगारी के विरोध में कांग्रेस नेताओं ने दी गिरफ्तारियां

जयपुर। केन्द्र सरकार की गलत नीतियों के कारण देश में बढ़ती मंहगाई एवं बेरोजगारी के विरोध में राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा के नेतृत्व में कांग्रेस नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने सिविल लाईन्स फाटक, जयपुर पर प्रदर्शन किया तथा राजभवन का घेराव करते हुये सामूहिक गिरफ्तारी दी। इस अवसर पर उपस्थित कांग्रेसजनों को सम्बोधित करते हुए श्री डोटासरा ने कहा कि आज देश में अराजकता का माहौल है, मंहगाई एवं बेरोजगारी चरम पर है जिससे उद्वेलित होकर पूरे देश में केन्द्र सरकार की गलत नीतियों के विरोध में कांग्रेस पार्टी द्वारा कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गॉंधी एवं कांग्रेस नेता राहुल गॉंधी के नेतृत्व में देश, प्रदेश, जिला एवं ब्लॉक स्तर पर विरोध-प्रदर्शन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि देश में एनडीए का शासन आने से पूर्व जब नरेन्द्र मोदी को जब प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया गया...

CORONA IS BACK! राजस्थान में पिछले 24 घंटों में 413 नए केस मिले, अजमेर में 2 की मौत

👉 यहां क्लिक करें और इंडिया हेल्थ टीवी से जुड़कर अपने स्वास्थ्य की रक्षा करें। जयपुर। राजस्थान में एक बार फिर से कोरोना ने पैर पसारना शुरू कर दिया है। इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पिछले 24 घंटों में 413 नए केस मिले हैं। जबकि अजमेर में कोरोना से 2 लोगों की मौत हो गई है। राजस्थान में कोरोना के एक्टिव केस बढ़कर 2331 हो गए है। राज्य सरकार ने हालात को देखते हुए जिलों में सैंपलिंग बढ़ाने के निर्देश दिए है। स्वास्थ्य विभाग के मेडिकल बुलेटिन के अनुसार अजमेर में कोरोना से दो लोगों की मौत हो गई है। बुलेटिन के अनुसार राजधानी जयपुर में 153 नए केस मिले हैं। जबकि अजमेर और अलवर में 25 और 35 केस मिले हैं।   बांसवाड़ा जिले में 2 और बारां में 1 केस मिला है। भीलवाड़ा और बीकानेर में 16-16 केस मिले हैं। चित्तौड़गढ़ में 18 और दौसा में 24 केस मिले हैं। धौलपुर मे...

भ्रष्टाचार की लपटों में खुद झुलसा मुख्य अग्निशमन अधिकारी, 50 हजार की रिश्वत लेते ट्रैप

राजस्थान एसीबी की टीम ने भ्रष्टाचार के खिलाफ एक और बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। एसीबी की विशेष अनुसंधान इकाई ने गुरुवार दोपहर एक बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए 50 हजार रुपए की रिश्वत राशि लेते हुए जयपुर के चीफ फायर ऑफिसर जगदीश फुलवारी और उनके चालक श्रवण कुमार को रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। एसीबी के पुलिस महानिदेशक भगवान लाल सोनी ने बताया कि परिवादी ने एसीबी मुख्यालय में उपस्थित होकर यह शिकायत दी थी की उसे फायर एनओसी जारी करने की एवज में सीएफओ जगदीश फुलवारी द्वारा 1 लाख रुपए की रिश्वत राशि मांग कर परेशान किया जा रहा है। जिस पर एसीबी टीम ने शिकायत का सत्यापन किया और सत्यापन के बाद आज ट्रैप की कार्रवाई को अंजाम देते हुए सीएफओ जगदीश फुलवारी और चालक श्रवण कुमार को गिरफ्तार कर लिया। सत्यापन के दौरान दलाल के मार्फत ली 50 हजार की घूस डीजी बी.एल सोनी ने बताया कि परिवादी की फर्म द्वारा लग...

जानें क्या खास है आज के PIB द्वारा जारी कोविड बुलेटिन में

भारत में कोविड-19 टीकाकरण कवरेज आज सुबह 7 बजे तक की अनंतिम रिपोर्ट के अनुसार 205.22 करोड़ से अधिक (2,05,22,51,408) हो गया है। इस उपलब्धि को 2,72,07,336 टीकाकरण सत्रों के जरिये हासिल किया गया है। 12-14 वर्ष के आयु वर्ग के लिए कोविड-19 टीकाकरण 16 मार्च, 2022 को प्रारंभ हुआ था। अब तक 3.92 करोड़ से अधिक (3,92,26,460) किशोरों को कोविड-19 टीके की पहली खुराक दी गई है। इसी तरह, 18-59 वर्ष के आयु वर्ग के लिए एहतियाती खुराक 10 अप्रैल, 2022 को प्रारंभ की गई। - देशव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अब तक टीके की कुल 205.22 करोड़ खुराक (93.40 करोड़ दूसरी खुराक और 9.80 करोड़ एहतियाती खुराक) दी गई - पिछले 24 घंटों में 38,20,676 खुराक दी गई - भारत में इस समय सक्रिय मामलों की संख्या 1,36,478 - सक्रिय मामले 0.31 प्रतिशत - मरीजों के स्वस्थ होने की दर इस समय 98.50 प्रतिशत - पिछले 24 घंटों में 20,4...

नरेगा में भ्रष्टाचार का मामला, आकेली ग्राम पंचायत ए के सरपंच के खिलाफ जांच के आदेश

जयपुर। नरेगा विकास कार्यों के नाम पर फैला भ्रष्टाचार थमने का नाम नहीं ले रहा है। एक ओर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति पर काम कर रहे हैं, दूर दराज की ढाणी में बैठे पात्र लोगों तक विकास का लाभ पहुंचाना चाहते हैं वहीं भ्रष्टाचार सीएम के इस मिशन में बड़ा बाधक बन रहा है। ऐसे ही एक मामले में राज्य सरकार ने ग्राम पंचायत आकेली ए के सरपंच अशोक गोलिया के खिलाफ मिली शिकायत पर जांच कर 7 दिन में रिपोर्ट मांगी है। आके​ली ए और गेमलियावास के ग्रामीणों ने इस मामले में मय दस्तावेज ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग के मंत्री रमेश मीणा को ज्ञापन सौंपा था। इस ज्ञापन में नरेगा विकास कार्यों में कैसे बिना काम के पैसे उठा लिए गए, आरटीआई का जवाब नहीं दिया गया और कैसे स्थानीय प्रशासन और ग्राम सेवक सरपंच से मिला हुआ है इसकी शिकायत की गई थी। यह शिकायत राजस्थान के मुख्...

सरपंच संघ के प्रस्तावित महापड़ाव से पहले जनप्रतिनिधियों में दो फाड़! अब सरकार के समर्थन में महापड़ाव के विरोध में जयपुर में जुटने लगे जनप्रतिनिधि

जयपुर। क्या राजस्थान में ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग से जुड़े जनप्रति​निधियों में आपसे में फूट है? जयपुर के शहीद स्मारक पर अपनी 23 सूत्रीय लंबित मांगों को लेकर राष्ट्रीय सरपंच संघ ने 5 अगस्त से शहीद स्मारक पर महापड़ाव डालने की घोषणा की है। जिसको लेकर सरकार के विरोध में बड़ा शक्ति प्रदर्शन करने की तैयारी है। विभाग के मंत्री के खिलाफ राष्ट्रीय सरपंच संघ नाराजगी जता रहा है। कई दिनों से इसकी तैयारियां भी की जा रही है। लेकिन अब सरकार के समर्थन में भी जनप्रतिनिधि आ गए हैं।  समर्थक जनप्रतिनिधियों ने राष्ट्रीय सरपंच संघ के महापड़ाव को नाजायज बताते हुए इससे दूरी बना ली है। ना केवल दूरी बनाई है बल्कि इस महापड़ाव के विरोध में जयपुर में डेरा डालने का भी ऐलान कर दिया है।  सरपंच संघ के महापड़ाव का विरोध करते हुए इन जनप्रतिनिधियों ने आरोप लगाया कि ...