80 करोड़ गरीबों को 3 महीने तक मिलेगा राशन फ्री: कोरोना से लड़ाई के लिए सरकार की 10 (TEN) बड़ी घोषणाएं


नई दिल्लीः  कोरोना वायरस के खतरे से निपटने के लिए सरकार ने कमर कस ली है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 1.70 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज का एलान करते हुए कहा कि कोई भूखा न रहे सरकार की यही कोशिश है. लॉक डाउन का असर ग़रीबों और दिहाड़ी मजदूरों पर सबसे ज्यादा पडा है इस लिहाज से पैकेज भी ज्यादातर उन्हीं को समर्पित है.

अन्न और धन दोनों तरीकों से सरकार गरीबों की मदद करेगी.

1 - प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना से 80 करोड़ लोगों को अन्न दिया जाएगा. हर व्यक्ति को 5 किलो खाद्यान्न अलग से मुफ्त दिया जाएगा. अगले तीन महीनों तक 80 करोड़ गरीबों को 5 किलो ज्यादा राशन (गेहूं या चावल) मिलेगा. इसके साथ ही हर घर को उनकी पसंद की एक किलो दाल भी दी जाएगी.

2 - संगठित क्षेत्र के कर्मचारियों के लिए इपीएफ की 24% रकम अगले 3 महीने तक सरकार ही देगी. ये 100 कर्मचारियों तक के संस्थानों के लिए होगा, जिसमें 90% कर्मचारियों की औसत आमदनी 15000 प्रतिमाह है.80 लाख कर्मचारियों और 4 लाख कंपनियों को इसका फायदा मिलेगा. साथ ही पीएफ रेग्युलेशन में संशोधन किया जाएगा ताकि इस मुश्किल घड़ी में कर्मचारी आकस्मिक निधि से 75 फीसदी तक फंड या तीन महीने के वेतन के बराबर जो भी कम है, कर्मचारी निकाल सके.

3 - स्वास्थ्यकर्मियों के लिए 50 लाख रुपये जीवन बीमा का एलान किया गया.

4 - इसके अलावा हर मनरेगा मजदूर के लिए दिहाड़ी 182 रुपये से बढ़ाकर 202 रुपये तय कर दी गई है.

5 - किसानों को सीधा फायदा पहुंचाने वाली किसान सम्मान निधि योजना के तहत 8.70 करोड़ किसानों के खाते में 2 हजार रुपये अप्रैल के पहले हफ्ते में डाले जाएंगे.

6 - 3 करोड़ लोगों को राहत पहुंचाने के लिहाज से बुजुर्ग, विधवा, दिव्यांगों को 1000 रुपये ज्यादा पेंशन मिलेगी. इसे दो किस्तों में दिया जाएगा.

7 - उज्ज्वला योजना की लाभार्थी करीब 8 करोड़ गरीब महिलाओं को अगले तीन महीने तक मुफ्त सिलेंडर दिए जाएंगे.

8 - 20 करोड़ महिलाओं के जनधन खाते में 500-500 रुपये अगले 3 महीने तक देने का फैसला लिया गया है.

9 - कोरोना से जंग लड़ रही आशा कार्यकर्ताओं, स्वच्छता कर्मचारियों, मेडिकल और पैरा-मेडिकल स्टाफ के लिए 50 लाख रुपये के बीमा कवर का ऐलान किया जाता है. इसका फायदा 20 लाख मेडिकल स्टाफ और कोरोना वॉरियर्स को मिलेगा.

10- मंत्री ने मनरेगा के तहत दैनिक मजदूरी 182 रुपये से बढ़ाकर 202 रुपये किया. इससे पांच करोड़ परिवार को लाभ होगा. सरकार प्रधानमंत्री किसान योजना के तहत 8.69 करोड़ किसानों को अप्रैल के पहले सप्ताह में दो-दो हजार रुपये का अग्रिम भुगतान करेगी.


Courtesy: Navid Mamoon, Gabriel Rasskin & Covid Visualizer Team.