राजस्थान में ऑक्सीजन और दवाओं की भारी किल्लत, 3 मंत्री जाएंगे दिल्ली, केंद्र को करवाएंगे समस्या से अवगत


जयपुर। राजस्थान में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों पर लगाम कसने के लिए राजस्थान सरकार हर संभव प्रयास कर रही है। लेकिन ऑक्सीजन और रेमडेसिविर जैसे इंजेक्शन की कमी ने राजस्थान सरकार की चिंता बढ़ा दी है। इतना ही नहीं 1 मई से शुरू होने वाले 18 वर्ष से अधिक की आयु वालों के लिए वैक्सीन उपलब्ध नहीं होने के चलते वैक्सीनेशन का कार्य भी प्रभावित हो रहा है।

ऐसे में इन सभी कार्यों की समीक्षा के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने निवास पर सोमवार रात एक बैठक बुलाई और बैठक में तीन सदस्यीय समिति गठित करने का निर्णय हुआ। जिसमें मंत्री डॉ. रघु शर्मा, डॉ. बीडी कल्ला एवं शांति धारीवाल शामिल किए। इनको दिल्ली भेजने का भी निर्णय हुआ। यह पहली बार होगा कि किसी प्रदेश से तीन मंत्री दिल्ली पहुंचेंगे और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री एवं विभाग के अधिकारियों से चर्चा कर प्रदेश में ऑक्सीजन और दवाइयों के क्राइसिस की स्थिति से अवगत कराकर सप्लाई की मांग करेंगे।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राजस्थान में ऑक्सीजन की भयंकर कमी है। कई मुख्यमंत्रियों से प्राइम मिनिस्टर के साथ वीसी में भी रेमडेसिविर और ऑक्सीजन की मांग की थी, अभी तक पूरी हुई नहीं है, ये चिंता का विषय है।


Courtesy: Navid Mamoon, Gabriel Rasskin & Covid Visualizer Team.